Diaries Magazine

Ehsaas

Posted on the 03 March 2017 by Cifarshayar @cifarshayar

एहसास (Ehsaas)

Ehsaas
हर पल मेरे ही साथ तू होता है,मौजूद न हो तो एहसास रहता है। Har Pal Mere Hi Saath Tu Hota Hai,Maujood Na Ho To Ehsaas Rehta Hai.
तेरे ही संग ये ज़िन्दगी बितानी है,तुझ बिन जीने का एहसास ही न होता है। Tere Hi Sang Ye Zindagi Bitani Hai,Tujh Bin Jeene Ka Ehsaas Hi Na Hota Hai.
तुझको न चाहूँ तो करूँ भी में क्या,तुझसे शुरू ही हर काम मेरा होता है। Tujhko Na Chahun To Karun Bhi Mein Kya,Tujhse Shuru Hi Har Kaam Mera Hota Hai.
तूने किया रुसवा तो बच ना सकेंगे हम,दर पे तेरे ही सुबह-ओ-शाम मेरा होता है। Tune Kiya Ruswa To Bach Na Sakenge Hum,Dar Pe Tere Hi Subha-O-Shaam Mera Hota Hai.
मौत भी आई तो मौत से कह देंगें,लेने-देने का मुझसे बस हक़ तेरा होता है। Maut Bhi Aai To Maut Se Keh Denge,Lene-Dene Ka Mujhse Bas Haq Tera Hota Hai.
हूँ में 'सिफर' तेरे बिन कुछ नहीं हूँ,जुड़ कर ही तुझसे तो नाम मेरा होता है। Hun Mein 'Cifar' Tere Bin Kuch Bhi Nahin Hun,Jud Kar Hi Tujhse To Naam Mera Hota Hai.
एहसास (Ehsaas) - Feelings ; मौजूद (Maujood) - Present ; रुस्वा (Ruswa) - Dishonor) ; हक़ (Haq) - Right .  

You Might Also Like :

Back to Featured Articles on Logo Paperblog

These articles might interest you :

Magazine